Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

भारत मंडपम (Bharat Mandapam Delhi) क्या है? | भारत मंडपम के बारे में रोचक तथ्य

जी20 2023, जिसे भारत की अध्यक्षता में आयोजित किया जा रहा है, 9 और 10 सितंबर, 2023 को नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। यह भारत में आयोजित होने वाला पहला जी20 शिखर सम्मेलन है।

जी20 एक अंतरराष्ट्रीय समूह है जिसमें दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के 20 देश शामिल हैं। इन देशों में भारत, संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी, कनाडा, इटली, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस, ब्राजील, मैक्सिको, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, तुर्की, सऊदी अरब और अर्जेंटीना शामिल हैं। जी20 2023 में भारत मंडपम (Bharat Mandapam) बहुत लोकप्रिय हो रहा है, तो आइए जानते हैं: भारत मंडपम (Bharat Mandapam Delhi) क्या है?

भारत मंडपम (Bharat Mandapam Delhi) क्या है? | Bharat Mandapam in hindi

भारत मंडपम नई दिल्ली के प्रगति मैदान में स्थित एक विशाल कन्वेंशन केंद्र है। यह भारत का सबसे बड़ा कन्वेंशन केंद्र है और दुनिया के शीर्ष 10 कन्वेंशन केंद्रों में से एक है।

भारत मंडपम का निर्माण 2021 में पूरा हुआ था और इसका उद्घाटन 26 जुलाई, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। यह केंद्र 28 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें 50,000 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता है।

भारत मंडपम में कई सुविधाएं हैं, जिनमें एक प्रमुख कन्वेंशन सेंटर, प्रदर्शनी हॉल, एक ऑडिटोरियम, एक व्यापार केंद्र और एक रेस्तरां शामिल हैं। यह केंद्र अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेलों, सम्मेलनों, प्रदर्शनियों और अन्य बड़े आयोजनों की मेजबानी के लिए डिज़ाइन किया गया है।

2023 में, भारत मंडपम जी20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। यह भारत में आयोजित होने वाला पहला जी20 शिखर सम्मेलन होगा।

भारत मंडपम का नाम “अनुभव मंडपम” से लिया गया है, जो एक हिंदू दर्शन है जो सभी जीवों के बीच समानता और भाईचारे की भावना को बढ़ावा देता है।

भारत मंडपम के अन्दर क्या क्या है?

भारत मंडपम के अंदर कई सुविधाएं हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • प्रमुख कन्वेंशन सेंटर: यह सेंटर 1,50,000 वर्ग फुट का है और इसमें 50,000 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता है। यह सेंटर अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेलों, सम्मेलनों, प्रदर्शनियों और अन्य बड़े आयोजनों की मेजबानी के लिए डिज़ाइन किया गया है।
  • प्रदर्शनी हॉल: भारत मंडपम में 10 प्रदर्शनी हॉल हैं, जिनमें से प्रत्येक 20,000 वर्ग फुट का है। ये हॉल विभिन्न प्रकार के प्रदर्शनियों और कार्यक्रमों की मेजबानी के लिए उपयोग किए जा सकते हैं।
  • ऑडिटोरियम: भारत मंडपम में एक 2,000-सीट वाला ऑडिटोरियम है। यह ऑडिटोरियम संगीत, नाटक और अन्य प्रदर्शनों की मेजबानी के लिए उपयोग किया जा सकता है।
  • व्यापार केंद्र: भारत मंडपम में एक व्यापार केंद्र है, जिसमें व्यापार बैठकों और सम्मेलनों के लिए सुविधाएं हैं।
  • रेस्तरां: भारत मंडपम में एक रेस्तरां है, जो भोजन और पेय पदार्थों की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है।

भारत मंडपम की सबसे उल्लेखनीय विशेषताओं में से एक इसकी वास्तुकला है। यह केंद्र आधुनिक और पारंपरिक भारतीय वास्तुकला का एक संयोजन है। केंद्र का बाहरी हिस्सा एक विशाल धातु की जाली से बना है, जो भारत के विभिन्न राज्यों और संस्कृतियों का प्रतिनिधित्व करती है। केंद्र के अंदर, दीवारों और छतों को भारतीय कला और शिल्प से सजाया गया है।

भारत मंडपम एक आधुनिक और बहुमुखी सुविधा है जो भारत को दुनिया के एक प्रमुख वैश्विक मंच के रूप में स्थापित करने में मदद कर सकती है।

भारत मंडपम में कुल खर्च (बजट)

भारत मंडपम के निर्माण में कुल 2700 करोड़ रुपये का खर्च आया था। यह केंद्र 28 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें 50,000 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता है।

भारत मंडपम का निर्माण 2021 में पूरा हुआ था और इसका उद्घाटन 26 जुलाई, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। यह केंद्र अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेलों, सम्मेलनों, प्रदर्शनियों और अन्य बड़े आयोजनों की मेजबानी के लिए डिज़ाइन किया गया है।

2023 में, भारत मंडपम जी20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। यह भारत में आयोजित होने वाला पहला जी20 शिखर सम्मेलन होगा।

भारत मंडपम की सबसे उल्लेखनीय विशेषताओं में से एक इसकी वास्तुकला है। यह केंद्र आधुनिक और पारंपरिक भारतीय वास्तुकला का एक संयोजन है। केंद्र का बाहरी हिस्सा एक विशाल धातु की जाली से बना है, जो भारत के विभिन्न राज्यों और संस्कृतियों का प्रतिनिधित्व करती है। केंद्र के अंदर, दीवारों और छतों को भारतीय कला और शिल्प से सजाया गया है।

भारत मंडपम एक आधुनिक और बहुमुखी सुविधा है जो भारत को दुनिया के एक प्रमुख वैश्विक मंच के रूप में स्थापित करने में मदद कर सकती है।

भारत मंडपम के बारे में रोचक तथ्य:

भारत मंडपम नई दिल्ली के प्रगति मैदान में स्थित एक विशाल कन्वेंशन केंद्र है। यह भारत का सबसे बड़ा कन्वेंशन केंद्र है और दुनिया के शीर्ष 10 कन्वेंशन केंद्रों में से एक है।

भारत मंडपम के बारे में कुछ रोचक तथ्य इस प्रकार हैं:

  • भारत मंडपम का निर्माण 2021 में पूरा हुआ था और इसका उद्घाटन 26 जुलाई, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।
  • भारत मंडपम का नाम “अनुभव मंडपम” से लिया गया है, जो एक हिंदू दर्शन है जो सभी जीवों के बीच समानता और भाईचारे की भावना को बढ़ावा देता है।
  • भारत मंडपम 28 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें 50,000 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता है।
  • भारत मंडपम में कई सुविधाएं हैं, जिनमें एक प्रमुख कन्वेंशन सेंटर, प्रदर्शनी हॉल, एक ऑडिटोरियम, एक व्यापार केंद्र और एक रेस्तरां शामिल हैं।
  • भारत मंडपम की सबसे उल्लेखनीय विशेषताओं में से एक इसकी वास्तुकला है। यह केंद्र आधुनिक और पारंपरिक भारतीय वास्तुकला का एक संयोजन है। केंद्र का बाहरी हिस्सा एक विशाल धातु की जाली से बना है, जो भारत के विभिन्न राज्यों और संस्कृतियों का प्रतिनिधित्व करती है। केंद्र के अंदर, दीवारों और छतों को भारतीय कला और शिल्प से सजाया गया है।
  • भारत मंडपम की वास्तुकला को कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है, जिनमें से एक है “सर्वश्रेष्ठ कन्वेंशन सेंटर” के लिए 2022 का विश्व कन्वेंशन सेंटर अवार्ड।
  • भारत मंडपम 2023 में जी20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। यह भारत में आयोजित होने वाला पहला जी20 शिखर सम्मेलन होगा।

भारत मंडपम एक आधुनिक और बहुमुखी सुविधा है जो भारत को दुनिया के एक प्रमुख वैश्विक मंच के रूप में स्थापित करने में मदद कर सकती है।

FAQs:

  • भारत मंडपम कहाँ स्थित है?

भारत मंडपम नई दिल्ली के प्रगति मैदान में स्थित है।

  • भारत मंडपम का निर्माण कब हुआ था?

भारत मंडपम का निर्माण 2021 में पूरा हुआ था और इसका उद्घाटन 26 जुलाई, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।

  • भारत मंडपम का आकार कितना है?

भारत मंडपम 28 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है।

  • भारत मंडपम में कितनी बैठने की क्षमता है?

भारत मंडपम में 50,000 से अधिक लोगों के बैठने की क्षमता है।

  • भारत मंडपम का उपयोग किन आयोजनों के लिए किया जा सकता है?

भारत मंडपम का उपयोग अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेलों, सम्मेलनों, प्रदर्शनियों और अन्य बड़े आयोजनों की मेजबानी के लिए किया जा सकता है।

कुछ अतिरिक्त प्रश्नों के उत्तर यहां दिए गए हैं:

  • भारत मंडपम का नाम किससे लिया गया है?

भारत मंडपम का नाम “अनुभव मंडपम” से लिया गया है, जो एक हिंदू दर्शन है जो सभी जीवों के बीच समानता और भाईचारे की भावना को बढ़ावा देता है।

  • भारत मंडपम की वास्तुकला की सबसे उल्लेखनीय विशेषताएं क्या हैं?

भारत मंडपम की वास्तुकला आधुनिक और पारंपरिक भारतीय वास्तुकला का एक संयोजन है। केंद्र का बाहरी हिस्सा एक विशाल धातु की जाली से बना है, जो भारत के विभिन्न राज्यों और संस्कृतियों का प्रतिनिधित्व करती है। केंद्र के अंदर, दीवारों और छतों को भारतीय कला और शिल्प से सजाया गया है।

  • भारत मंडपम की वास्तुकला को किन पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है?

भारत मंडपम की वास्तुकला को कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है, जिनमें से एक है “सर्वश्रेष्ठ कन्वेंशन सेंटर” के लिए 2022 का विश्व कन्वेंशन सेंटर अवार्ड।

  • भारत मंडपम का उपयोग किन आगामी आयोजनों के लिए किया जाएगा?

भारत मंडपम का उपयोग 2023 में होने वाले जी20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करने के लिए किया जाएगा। यह भारत में आयोजित होने वाला पहला जी20 शिखर सम्मेलन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top