Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

CMS Ed Course Details in Hindi – CMS Ed कोर्स क्या है?

नमस्कार दोस्तों , आज के लेख में बात में बात करेंगे CMS Ed Course Details in Hindi, CMS Ed कोर्स क्या है? अगर आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर बनना चाहते हैं तो CMS Ed कोर्स के बारे में जरूर सुना होगा | यह प्राथमिक चिकित्सा उपचार व निवारण देने से सबंधित कोर्स होता है | इस कोर्स को करने के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होना चाहिए? आदि जानकारी इस आर्टिकल में विस्तार से दिया गया है | आइए जानते हैं : CMS Ed Course Details in Hindi

CMS Ed Course Details in Hindi

CMS Ed कोर्स क्या है? (CMS Ed Course Details in Hindi)

CMS Ed का फुल फॉर्म Community Medical Services and Essential Drug है| हिंदी में इसे सामुदायिक स्वास्थ्य सेवाएं एवं आवश्यक औषधी कहतें हैं, जिसे जन स्वास्थ्य पाठ्यक्रम नाम से भी जाना जाता है| CMS Ed कोर्स एक वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रम है | यह एक वर्षीय पाठ्यक्रम में प्राथमिक चिकित्सा उपचार व निवारण देने सम्बंधित होता है| साथ ही इस कोर्स को बहुत से संस्थान 18 माह या 02 वर्ष का कराते हैं | लेकिन इसमें आपको सर्टिफिकेट 1 वर्ष डिप्लोमा का ही मिलता है |

CMS Ed कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होना चाहिए?

  • स्टूडेंट्स का 10+2 किसी भी स्ट्रीम से पास होना आवश्यक है |
  • अगर स्टूडेंट्स साइंस स्ट्रीम्स से है तो उसे प्राथमिकता दिया जाता है |
  • अगर आप किसी भी प्रकार की डिग्री कर रखी है, तब भी आप इस कोर्स को कर सकते हैं |

CMS Ed कोर्स में कौन कौन से विषय पढ़ाए जाते हैं ?

  • CMS Ed कोर्स की अवधि 18 महीने से लेकर 24 महीने की होती है |
  • इसमें 2 सालों में 10 सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं , जिसको तीन अलग अलग सेमेस्टर में विभाजित किया गया है |
  • जो रेगुलर क्लासेस होती है उसमे 1st ईयर तथा 2nd ईयर में विभाजित किया गया है |

1st ईयर में पढ़ाए जाने वाले विषय इस प्रकार है :

  • Anatomy
  • Physiology
  • Pathology
  • Health and hygine
  • Pharmacology

2nd ईयर में पढ़ाए जाने वाले विषय :

  • Medical jurisprudence
  • Obstetrics and Gynecology
  • Practice of medicine
  • Primary Health Care
  • Essential Drugs

CMS Ed कोर्स फीस कितनी होती है?

  • दोस्तों CMS Ed कोर्स दो प्रकार से किया जाता है : Distance Learning और Regular
  • अगर आप Distance Learning में करते हैं , तो 50 से 60 हजार रूपये खर्चा लग सकता है |
  • अगर आप Regular करते हैं तो 1.50 लाख से 2 लाख रूपये खर्चा आ सकता है |
  • रजिस्ट्रेशन फीस 1000 रुपए अलग से लगती है |

CMS Ed कोर्स के क्या फायदे हैं?

  • अगर आप CMS Ed कोर्स कर लेते हैं , तो आपको WHO के द्वारा रजिस्टर्ड 100 एलोपैथिक दवाओं द्वारा पूरे भारत वर्ष के किसी भी ग्रामीण क्षेत्र में अपने प्राइमरी हेल्थकेयर सेंटर में प्राथमिक चिकित्सा कर सकते हैं |
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन की घोषणा के अनुसार प्रत्येक नर नारी हेतु अच्छे स्वास्थ्य की कामना ही मुख्य उद्देश्य है | यह घोषणा 1978 में की गई थी जिसके अनुसार आयुर्वेदिक , होम्योपैथी , यूनानी , बायोकेमीक , प्राकृतिक चिकित्सा जैसी चिकित्सा पद्वात्तियों चिकित्सकों को साधारण एलोपैथिक मेडिसिन का प्रशिक्षण देने हेतु कोम्नुनिटी मेडिकल सर्विस एंड एसेंनशियल ड्रग इन एलोपैथिक मेडिसिन में 18 माह के कोर्स को प्रारम्भ किया है |
  • इस पाठ्यक्रम के अंतर्गत 6 माह तक साधारण एलोपैथिक मेडिसिन का प्रशिक्षण प्राप्त करने का प्रावधान है | आवश्यक ओषधि पाठ्यक्रम पूरा होने पर परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा अनुमेदित 100 से अधिक मेडिसिन से प्राथमिक उपचार करने का अधिकार प्रदान किया जाता है |

CMS Ed प्रवेश के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या होना चाहिए?

  • 10वीं और 12वीं पास मार्कशीट की 2- 2 अटेस्टेड फोटोकॉपी
  • पासपोर्ट साइज़ की 10 रंगीन फोटोकॉपी
  • आधार कार्ड की 2 -2 फोटोकॉपी
  • यदि कोई डिग्री या डिप्लोमा पहले मौजूद है तो उसकी फोटोकॉपी 2 प्रतियों में जमा करना होता है |

CMS Ed कोर्स का मान्यता कहाँ – कहाँ से है?

  • माननीय सुप्रीमकोर्ट नयी डेल्ही द्वारा वैद्यानिकता प्राप्त
  • मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा नो अब्जेक्शन प्रमाण पत्र
  • वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) द्वारा मान्यता प्राप्त
  • इंडियन रूरल मेडिकल एसोसिएशन
  • इंडियन इंस्टिट्यूट फॉर हेल्थ ट्रेनिंग

CMS Ed कोर्स करने के बाद जॉब विकल्प क्या क्या हो सकता है?

  • इस पाठ्यक्रम को पूरा करने के बाद यदि आप भारत के किसी भी राज्य एलोपैथिक मेडिसिन से प्राथमिक उपचार करते हैं तो भारत की केंद्रीय सरकार और राज्य सरकार व कोई भी शासकीय अधिकारी आपको केवल समझा सकते हैं न ही आप पर केस कर सकती है और न ही दण्डित कर सकती है |
    ⦁ यह भारत में प्रत्येक राज्य में प्राथमिक उपचार हेतु मान्यता प्राप्त है |

ये भी पढ़ें :

FAQ :

प्रश्न : CMS Ed कोर्स कहाँ से करें?

उत्तर : CMS Ed कोर्स किसी ऐसे इंस्टिट्यूट से ही करें जिसे PCI (पेरामेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया) द्वारा मान्यता प्राप्त हो |

प्रश्न : CMS Ed कोर्स कितने साल का होता है?

उत्तर : CMS Ed कोर्स 18 महीने से लेकर 2 वर्ष तक होता है | कोर्स की अवधि डिस्टेंस लर्निंग और रेगुलर कोर्स पर निर्भर करती है |

प्रश्न : क्या CMS Ed कोर्स के साथ साथ अन्य कोर्स किया जा सकता है?

उत्तर : हाँ, CMS Ed कोर्स करने के साथ साथ अन्य किसी भी कोर्स को किया सकता है |

प्रश्न : क्या एक डिग्री और एक डिप्लोमा एक साथ कर सकते हैं?

उत्तर : दो डिग्री / डिप्लोमा या सर्टिफिकेट प्रोग्राम रेगुलर माध्यम से एक साथ नहीं किया जा सकता | एक ही यूनिवर्सिटी या अलग अलग यूनिवर्सिटी से डिस्टेंस माध्यम से दो प्रोग्राम एक साथ किया जा सकता है |

FINAL ANALYSIS :

इस आर्टिकल में हमने जाना की CMS Ed Course Details in Hindi, CMS Ed कोर्स क्या है? और CMS Ed कोर्स के बारे में सारी जानकारी आपको विस्तार से बताया गया है | आशा करता हूँ आप इस CMS Ed Course Details in Hindi आर्टिकल को पढ़ने के बाद अच्छे से समझ गए होंगे | यदि आप डॉक्टर के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top