Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

Diploma In Computer Science In Hindi | जाने पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे “Diploma In Computer Science In Hindi” अगर कोई व्यक्ति कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा करना चाहते हैं ये अच्छी बात है| लेकिन उन्हें इस कोर्स के लिए कदम बढ़ाने से पहले इस बात से परिचित होना जरूरी है कि आवश्यक योग्यता क्या होना चाहिए? कोर्स की अवधि और फीस कितनी है और इसके अलावा सिलेबस, जॉब विकल्प, वेतन आदि| आइए इस लेख में इसी के बारे में विस्तृत जानकारी देने वाला हूँ इसलिए आप इस आर्टिकल को लास्ट तक अवश्य पढ़ें, तो आइए अब हम Diploma In Computer Science In Hindi के बारे में विस्तार से जानते हैं:

Diploma In Computer Science In Hindi

विषयों की सूची

कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा कोर्स | Diploma In Computer Science In Hindi

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा एक सर्टिफिकेट कोर्स है| इस कोर्स को करने से छात्र डिजाइन, सॉफ्टवेयर के विकास और कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग और कोडिंग पर ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं। इस कोर्स को पूरा करने में एक छात्र को 1 से लेकर 3 साल तक का समय लगता है। कम्प्यूटर विज्ञान विषय में डिप्लोमा इस तरह से संरचित है जो स्नातकों को रोजगार की एक व्यापक क्रम प्रदान करता है।

कंप्यूटर विज्ञान कोर्स में डिप्लोमा के लिए योग्यता क्या है?

वे उम्मीदवार जो कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा करना चाहते हैं उन्हें नीचे दी गई योग्यता को पूरा करना होगा:

  • आवेदकों को किसी मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्थान से अपनी 10 + 2 परीक्षा पास करनी होगी।
  • इस कोर्स के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का कम से कम 50% से 60% अंक होना जरूरी है।

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा के लिए फीस कितनी है? 

भारत में  कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा के लिए फीस संरचना कोर्स की पेशकश करने वाले कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में उपलब्ध मूल ढांचे और सुविधाओं के आधार पर अलग हो सकती है। भारत में औसत कोर्स फीस 13,000 से लेकर 57,000 रूपये प्रति वर्ष है। भारत में कंप्यूटर साइंस कॉलेजों में कुछ डिप्लोमा के लिए निम्नलिखित फीस है:

संस्थान का नाम औसत वार्षिक फीस
ईशान ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन 32,000 रु.
सिद्धि विनायक इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट कॉलेज 33,000 रु.
देश भगत विश्वविद्यालय 32,000 रु.
उषा मार्टिन विश्वविद्यालय 57,000 रु.
जेएस यूनिवर्सिटी 13,000 रु.
ज्ञान विहार स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी 28,000 रु.
देवभूमि ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस 44,000 रु.
केंद्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान 28,000 रु.
जामिया मिलिया इस्लामिया 26,910 रु.

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा किसको करना चाहिए?

  • 10वीं या 12वीं स्तर की परीक्षा पास करने वाले कोई भी उम्मीदवार कंप्यूटर विज्ञान कोर्स में डिप्लोमा करने के लिए पात्र हैं।
  • प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवार की पिछली योग्यता परीक्षा में कम से कम 55% अंक होना जरूरी है|
  •  उम्मीदवार को कंप्यूटर विज्ञान अनुप्रयोग, प्रोग्रामिंग आदि पर भी मूल ज्ञान होना बहुत जरूरी है|

कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के प्रकार 

कम्प्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा कोर्स उन उम्मीदवारों के लिए उपयुक्त है जो नियमित कक्षाओं में हिस्सा नहीं ले सकते हैं और पूर्णकालिक, अंशकालिक और दूरस्थ शिक्षा के इन 3 तरीकों में से किसी में भी प्रकार के तरीके से इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं। नीचे इसके बारे में विस्तार से समझाया गया है:

कम्प्यूटर साइंस में पूर्णकालिक डिप्लोमा:

10वीं या 12वीं पास करने वाले छात्र इस डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस में पूर्णकालिक मोड में प्रवेश ले सकते हैं। यह कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा का प्रकार है जिसमें छात्रों को नियमित व्याख्यान में भाग लेना होता है और ऑफ़लाइन सौंपा हुआ काम जमा करना होता है। 

कम्प्यूटर साइंस में अंशकालिक डिप्लोमा:

कुछ संस्थान ऐसे भी हैं जो छात्रों को ऑनलाइन मोड के माध्यम से कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा कोर्स संचालित करने का अवसर प्रदान करते हैं। ऑनलाइन मोड में यह कोर्स किसी भी समय और कहीं से भी डिग्री हासिल करने के बारे में है। इस कोर्स के ज़रिये से छात्र पोस्ट के माध्यम से अध्ययन सामग्री प्राप्त करता है और ऑनलाइन स्रोतों के माध्यम से समय पर असाइनमेंट जमा कर सकता है।

कम्प्यूटर साइंस में डिस्टेंस डिप्लोमा:

यह कंप्यूटर साइंस में एक प्रकार का डिप्लोमा है जो विशेष रूप से कामकाजी या पेशेवर लोगों के लिए डिज़ाइन किया गया है जो उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं लेकिन किसी तरह अपनी नौकरी और काम के कारण कक्षाओं में शामिल नहीं हो सकते हैं। कंप्यूटर विज्ञान कोर्स में दूरस्थ शिक्षा डिप्लोमा कुछ विश्वविद्यालयों में 14,000 से लेकर 35,000 रूपये तक प्रति वर्ष की फीस के साथ प्रदान किया जाता है।

कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के लिए प्रवेश कैसे प्राप्त करें? 

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा में प्रवेश मेरिट के आधार पर होता है। हर साल इसके लिए दाखिले अगस्त या सितंबर में शुरू होते हैं। आवेदकों को कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड के माध्यम से आवेदन करना होगा। नीचे दिए गए अनुभाग में कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा के लिए योग्यता, प्रवेश परीक्षा और विस्तृत प्रवेश प्रक्रिया देखें|

कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा के लिए योग्यता

  • उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्थान से अपनी 10 + 2 परीक्षा पूरी करनी होगी।
  • इस कोर्स के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम 50% से 60% कुल अंक आवश्यक हैं।

कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा के लिए प्रवेश प्रक्रिया 

चरण I –  छात्रों को उस कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन करना होगा जिसे वे आगे बढ़ाना चाहते हैं।

चरण II –  अगर कॉलेज प्रवेश परीक्षा के अंकों के माध्यम से उम्मीदवारों का चयन करता है, तो उन्हें इसे अपलोड करने की आवश्यकता होती है, और यदि यह उम्मीदवारों को उनकी योग्यता के आधार पर शॉर्टलिस्ट करता है, तो उन्हें अन्य आवश्यक दस्तावेजों के साथ पिछली परीक्षाओं के अपने अंक अपलोड करने होंगे।

चरण III –  एक विशेष तिथि पर एक योग्यता सूची जारी की जाएगी। यदि उम्मीदवार का नाम जारी की गई सूची में अपना नाम मिलता है, तो उन्हें ऑनलाइन या ऑफलाइन कॉलेज में रिपोर्ट करना होगा और सीट आवंटन किया जाएगा।

कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के लिए पाठ्यक्रम और विषय

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा 2 साल का प्रोग्राम है। कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा के छात्र जो कंप्यूटर-उन्मुख कोर्स में भाग लेते हैं वे वैश्विक तकनीकी के प्रबंधन के लिए कौशल प्राप्त करते हैं। नीचे कुछ प्रमुख दिए गए विषय हैं जिनका छात्र इस कोर्स में अध्ययन करेंगे: 

  • अनुप्रयुक्त भौतिकी
  • अप्लाइड रसायन विज्ञान
  • कंप्यूटर केंद्र प्रबंधन
  • इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स की बुनियादी बातों
  • डेटा संरचना
  • ऑपरेटिंग सिस्टम

कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा प्रदान करने वाले कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के लिए प्रवेश दिशानिर्देश मान्यता निर्धारित कर सकते हैं। कॉलेजों को राष्ट्रीय, राज्य या कॉलेज स्तर की प्रवेश परीक्षा देने के लिए इस कर्स में रुचि रखने वाले छात्रों की आवश्यकता हो सकती है। कुछ कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में अलग-अलग प्रवेश परीक्षा और कटऑफ अंक होते हैं। कंप्यूटर विज्ञान प्रवेश परीक्षा में कुछ शीर्ष डिप्लोमा इस प्रकार हैं: 

  • TS ICET
  • AP ICET
  • PGCET
  • TANCET
  • MAH MCA CET

कम्प्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा के लिए उच्च शिक्षा:

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स कंप्यूटर पेशेवरों के लिए काफी महत्त्वपूर्ण और मूल्यवान है। कंप्यूटर विज्ञान कार्यक्रमों के स्नातक कंप्यूटर क्षेत्र में करियर के लिए तैयार किए जाएंगे और विदेशों में या बहुराष्ट्रीय संगठनों में काम करने के लिए तैयार किए जाएंगे। कम्प्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा पूरा करने के बाद कई छात्र व्यावहारिक अनुभव और एक नया करियर की खोज करते हैं। उच्च शिक्षा के लिए कुछ विकल्प हैं:

  • BCA
  • MCA
  • M.Phil
  • Ph.D
  • WMP
  • WM

कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के बाद करियर विकल्प

कम्प्यूटर विज्ञान प्रोग्राम में डिप्लोमा के स्नातकों के लिए करियर के बहुत सारे अवसर हैं। भारत में कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा का तात्पर्य छात्रों को व्यावहारिक और सैद्धांतिक दक्षता प्रदान करना है जो उन्हें अपने करियर को आगे की और ले जाने के लिए जरूरी है। छात्र इस कार्यक्रम के पूरा होने के बाद लोकप्रिय कंप्यूटर नौकरियों के लिए सक्षम होंगे। कम्प्यूटर साइंस प्रोग्राम में डिप्लोमा के स्नातक निम्नलिखित क्षेत्रों में रोजगार पा सकते हैं:

  • नैदानिक ​​विश्लेषक
  • शोध सहयोगी
  • वेब डेवलपर
  • Android डेवलपर
  • कंप्यूटर विज्ञान शिक्षक

कंप्यूटर विज्ञान कोर्स में डिप्लोमा के लिए वेतन कितनी होती है?

वेतन पैकेज उम्मीदवार के कौशल और उद्योग में अनुभव पर निर्धारित होता है। भारत में कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के लिए वेतनमान 2 लाख से लेकर 4 लाख रूपये प्रति वर्ष है। एक फ्रेशर्स उम्मीदवार के लिए प्रति माह कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा वेतन 15,000 से 35,000 प्रति माह प्राप्त कर सकता है|

ये भी पढ़ें:

FAQ:

प्रश्न: कंप्यूटर विज्ञान में डिप्लोमा क्या है?

उत्तर: कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा एक ऐसा कोर्स है जो कंप्यूटर उपकरणों के डिजाइन, विकास और रखरखाव का अध्ययन करता है और इसे संचालित करने के लिए प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सेट करता है।

प्रश्न: कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा करने की योग्यता क्या है?

उत्तर: इस कोर्स को करने के लिए आपको गणित, विज्ञान और कंप्यूटर विज्ञान पाठ्यक्रमों के साथ 10वीं या 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।

प्रश्न: कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के बाद मैं कौन सी उच्च डिग्री कर सकता हूं?

उत्तर: कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा करने के बाद आप करियर के की सारे विकल्प चुन सकते हैं। कंप्यूटर विज्ञान कोर्स में डिप्लोमा के बाद आपको जो कौशल प्राप्त होते हैं, वे कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार, सूचना प्रौद्योगिकी, संचार इंजीनियरिंग, सूचना प्रणाली आदि में स्नातक की डिग्री सहित विभिन्न डोमेन के लिए प्रासंगिक हैं।

प्रश्न: डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस कोर्स की फीस संरचना क्या है?

उत्तर: कंप्यूटर साइंस कोर्स में डिप्लोमा के लिए शुल्क संरचना 10,000 रु. से लेकर 5,00,000 रु. तक हो सकती है| कोर्स फीस एक कॉलेज से दूसरे कॉलेज में भिन्न होता है। निजी कॉलेजों की फीस संरचना सरकारी कॉलेजों की तुलना में अधिक होगी।

प्रश्न: कंप्यूटर विज्ञान सीखने के लिए डिप्लोमा या डिग्री कोर्स में से कौन सा बेहतर है?

उत्तर: कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा डिग्री कोर्स से बेहतर कोर्स है क्योंकि आजकल कई कंपनियां डिप्लोमा कोर्स के छात्रों को सॉफ्टवेयर और आईटी विभागों में काम करने के लिए कहती हैं।

FINAL ANALYSIS:

इस लेख में हमने जाना Diploma In Computer Science In Hindi के बारे में| आशा करता हूँ इस लेख को पढ़ने के बाद कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा के बारे में आपको जानकारी मिल गई होगी| अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं| इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top