Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

MFA Course Details In Hindi – MFA कोर्स क्या है?

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे MFA Course Details In Hindi, MFA कोर्स क्या है?, जो व्यक्ति दृश्य और प्रदर्शन कला में दिलचस्पी रखते हैं जो अपना करियर संगीत, एक्टिंग और डांस जैसे कला क्षेत्र में बनाना चाहते हैं उनके लिए MFA कोर्स एक बेहतरीन अवसर माना जाता है| आइए इस लेख में MFA कोर्स से सम्बंधित अन्य सभी  जानकारी के बारे में विस्तार से जानते है:

MFA Course Details In Hindi

MFA कोर्स क्या है? (MFA Course Details In Hindi)

“मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स” (MFA) स्नातकोत्तर डिग्री कोर्स है जिसे दृश्य और प्रदर्शन कला में दिलचस्पी रखने वाले उम्मीदवारों के लिए डिज़ाइन किया गया है। MFA पाठ्यक्रम दो साल की अवधि का होता है जिसे चार सेमेस्टर में खंडित किया गया है| MFA कोर्स ज्यादातर कॉलेज या विश्वविद्यालय विशेषज्ञता के साथ पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं। MFA एक व्यापक वाक्यांश है इनमें कई क्षेत्रों को सम्मिलित किया गया है। यह कोर्स डिग्री उम्मीदवारों को दृश्य और प्रदर्शन कला में ज्ञान और क्षमता प्रदान करती है, जिससे उन्हें कला और शिल्प कार्य में एक बढ़िया कैरियर बनाने और कला उद्योग में आगे बढ़ने की  अनुमति प्राप्त होती है। MFA डिग्री व्यवसायी, उत्तेजना शोध के साथ-साथ कला क्षेत्र के वैज्ञानिक ज्ञान को शामिल करती है। 

MFA कोर्स के लिए योग्यता क्या होना चाहिए?

कॉलेज में प्रवेश के लिए आवेदन करने से पहले उम्मीदवारों को आवश्यक योग्यता के बारे में अच्छे से जान लेना जरूरी है| यदि कोई उम्मीदवार जल्दबाजी में योग्यताओं को बिना देखे आवेदन कर करते हैं तो ऐसे में उनका आवेदन फॉर्म को रद्द कर दिया जाएगा और इस छोटे से गलती के कारण कई साल का मेहनत बेकार में चला जाएगा| इसलिए मैं सभी छात्रों से यही कहना चाहूँगा की किसी भी कार्य को लापरवाही से न करें| MFA कोर्स में आवेदन के लिए योग्यता मानदंड का विवरण विस्तार से दी गई है:

  • आवेदको के पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान या विश्वविद्यालय से बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (BFA) या कोई अन्य समकक्ष डिग्री होनी चाहिए
  • कुछ कॉलेजों, जैसे एमिटी स्कूल ऑफ फाइन आर्ट्स को BFA में न्यूनतम 50% की आवश्यकता होती है, जबकि अन्य, जैसे जामिया मिलिया इस्लामिया को स्नातक में न्यूनतम 60% की आवश्यकता होती है। 
  • इसमें मानविकी में स्नातक डिग्री वाले उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं|

नोट: MFA कोर्स के लिए पात्रता मानदंड अलग अलग कॉलेजों में अलग अलग हो सकते हैं| 

MFA (मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स) कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?

प्रवेश प्रक्रिया प्रत्येक कॉलेज में अलग अलग प्रकार से होती है, निम्नलिखित प्रक्रियाएं हैं जो सामान्य रूप से प्रवेश पाने के लिए करनी होगी:

  • उम्मीदवारों को पहले इंटरनेट पोर्टल/ऑफलाइन के माध्यम से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • इसके बाद उपयुक्त आवश्यकताओं के अनुसार सभी विकल्प भरें|
  • निर्धारित आवेदन शुल्क का भुगतान करें|
  • उम्मीदवार को मानकों और आवश्यकताओं के अनुसार सभी कागजातों को अपलोड करें|
  • चयन करने के लिए निर्दिष्ट परीक्षणों में न्यूनतम अंकों की MFA योग्यता आवश्यकताओं का उपयोग किया जाता है। 
  • अच्छे अंक लाने वालों को पास करने के बाद ही उम्मीदवार का चयन किया जाता है उसके बाद कॉलेजों में प्रवेश परीक्षा हो सकती है।

नोट:  कुछ कॉलेज या संस्थान द्वारा यहां तक ​​कि राज्य भी MFA प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित कर सकते हैं|  पहला प्रवेश परीक्षा के माध्यम से और दूसरा योग्यता परीक्षा के अंकों के आधार पर|

MFA (मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स) कोर्स फीस कितनी होती है?

MFA कोर्स फीस कॉलेज के आधार पर भिन्न भिन्न हो सकती है। अपने बुनियादी ढांचे और संसाधनों के कारण सरकार आधारित संस्थान एक निजी संस्थान से कम शुल्क लेता है। एक निजी और संस्थान में एक MFA कोर्स का औसतन फीस 2,000 – 20,000 हर साल का चार्ज होता है|

विभिन्न कॉलेजों द्वारा ली जाने वाली वार्षिक शुल्क तालिका निम्न प्रकार है:

कॉलेज का नाम  वार्षिक शुल्क
सर जेजे इंस्टीट्यूट ऑफ एप्लाइड आर्ट्स, मुंबई  20 हजार रूपये
भारतीय कला महाविद्यालय, पुणे  1.5 लाख रूपये
दृश्य कला संकाय, BHU  5.3 हजार रूपये
एमिटी स्कूल ऑफ फाइन आर्ट्स, नोएडा  80 हजार रूपये
Dept. of Fine Arts, Kurukshetra University, Thanesar  72 हजार रूपये

 

MFA (मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स) के सिलेबस क्या है?

फोटोग्राफी, चित्रण आदि जैसे ऐच्छिक के अपवाद के साथ, MFA पाठ्यक्रम सभी विश्वविद्यालयों में लगभग समान है। भारत के विभिन्न प्रमुख कॉलेजों में MFA पाठ्यक्रम इस प्रकार है:

1St Year Syllabus:

सेमेस्टर I सेमेस्टर II
यूरोपीय शिल्प का इतिहास-I यूरोपीय शिल्प का इतिहास- II
विज्ञापन सिद्धांत और व्यवहार विज्ञापन सिद्धांत और व्यवहार-II
ऑक्सिडेंटल एस्थेटिक्स-I ऑक्सिडेंटल एस्थेटिक्स-II
विज़ुअलाइज़ेशन/चित्रण/फ़ोटोग्राफ़ी (कोई भी) विज़ुअलाइज़ेशन/चित्रण/फ़ोटोग्राफ़ी (कोई भी)
रचनात्मक पेंटिंग / भित्ति डिजाइन / पोर्ट्रेट / लैंडस्केप (कोई भी) रचनात्मक पेंटिंग / भित्ति डिजाइन / पोर्ट्रेट / लैंडस्केप (कोई भी)

 

2nd Year Syllabus:

सेमेस्टर III सेमेस्टर IV
आधुनिक भारतीय कला का इतिहास-I आधुनिक भारतीय कला का इतिहास- II
विज्ञापन (सिद्धांत और व्यवहार)- III विज्ञापन (सिद्धांत और व्यवहार)- IV
ओरिएंटल एस्थेटिक्स-I ओरिएंटल एस्थेटिक्स-II
विज़ुअलाइज़ेशन-III चित्रण-III फोटोग्राफी-III विज़ुअलाइज़ेशन-IV चित्रण-IV फ़ोटोग्राफ़ी-IV

 

MFA कोर्स के बाद नौकरी के क्या विकल्प होते हैं?

MFA कोर्स पूरा करने के बाद एक उम्मीदवार सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में काम कर सकते हैं| यह इस बात पर डिपेंड करता है कि वे किस तरह के रोजगार क्षेत्र में जाना चाहते हैं| हम कुछ नौकरियों के सूची दे रहें हैं जो आप MFA कोर्स के बाद कर सकते हैं:

  • कलाकार
  • ग्राफिक डिजाइनर
  • कला अध्यापक
  • कला इतिहासकार
  • संग्रहाध्यक्ष
  • एनिमेटर
  • रचनात्मक निदेशक
  • फोटोग्राफर
  • कला पुनर्स्थापक
  • कला समीक्षक
  • यूजर इंटरफेस डिजाइनर
  • फैशन डिजाइनर

MFA कोर्स के लिए शीर्ष कॉलेज कौन कौन से हैं?

भारत में ऐसे कई कॉलेज हैं जो MFA कार्यक्रम ऑफर करते हैं। हम कुछ कॉलेजों की सूची दे रहें हैं, उम्मीदवार अपने इच्छुक अनुसार कॉलेजों को चयन कर सकते हैं:

क्र.सं. कॉलेज का नाम
1 कला महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय
2 BHU, Varanasi
3 जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय
4 एप्लाइड आर्ट्स के सर जे जे संस्थान
5  कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय
6 विश्व भारती विश्वविद्यालय
7  एएमयू, अलीगढ़
8 भारतीय कला प्रसारिणी सभा कॉलेज ऑफ आर्किटेक्चर
9 एमिटी स्कूल ऑफ फाइन आर्ट्स
10 संचार स्कूल, मणिपाली

 

MFA कोर्स के बाद वेतन पैकेज क्या होती है?

एक उम्मीदवार MFA की डिग्री पूरा करने के बाद कई सारी नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं| वेतन उम्मीदवार के विशेषज्ञता और नौकरी की भूमिका के आधार पर भिन्न हो सकता है। कुछ सामान्य नौकरी भूमिकाओं के लिए वेतन संरचना नीचे दी गई तालिका में दी गई है:

नौकरी का विवरण वेतन
ग्राफिक डिजाइनर  3,52,000 रु.
वरिष्ठ ग्राफिक डिजाइनर  6,86,000 रु.
3डी कलाकार  4,09,000 रु.
कला निर्देशक  6,48,000 रु.
कला अध्यापक  3,22,000 रु.
रचनात्मक निदेशक  10,00,000 रु.
यूजर इंटरफेस डिजाइनर 3,01000 रु.
रणनीति विश्लेषक  6,26,000 रु.
फैशन डिजाइनर  6,09,000 रु.

 

ये भी पढ़ें:

FAQ:

प्रश्न : MFA के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

उत्तर : उम्मीदवारों के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कला स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। MFA पेंटिंग कोर्स के लिए छात्रों के पास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री में कम से कम 55 प्रतिशत होना चाहिए|

प्रश्न :  MFA कितने साल का कोर्स होता है?

उत्तर : MFA कार्यक्रमों को पूरा होने में एक साल से लेकर चार साल तक का समय लग सकता है, हालांकि अधिकांश में दो से तीन साल लगते हैं। यदि आपको अपने MFA का पीछा करते हुए अपनी नौकरी और पारिवारिक जीवन को संतुलित करने की आवश्यकता है, तो ऐसे स्कूलों का पता लगाएं जो आपको अंशकालिक या ऑनलाइन अध्ययन करने में सक्षम बनाते हैं।

प्रश्न : क्या MFA के लिए कोई प्रवेश परीक्षा है?

उत्तर :  नहीं| MFA कार्यक्रम में प्रवेश के लिए प्रशासित कोई राष्ट्रीय या राज्य स्तरीय परीक्षण नहीं हैं। दरअसल, एएमयू जैसे कॉलेज प्रवेश के लिए विभागीय परीक्षा आयोजित करते हैं।

प्रश्न : MFA कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है?

उत्तर : आप सालाना 2-5 लाख की औसत प्रारंभिक आय अर्जित कर सकते हैं। बहुत सारी विशेषज्ञता और कौशल हासिल करने के बाद यह सालाना 8 लाख तक बढ़ सकता है। यदि आपने प्रभावी रूप से ग्राहक आधार बनाया या खोजा है तो आप एक फ्रीलांसर के रूप में अधिक कमा सकते हैं|

FINAL ANALYSIS:

इस लेख में हमने जाना की MFA Course Details In Hindi, MFA कोर्स क्या है?, इस लेख के जरिए हमने MFA कोर्स से सम्बंधित सभी जानकारी साझ की है, मुझे उम्मीद है की आप इस लेख को पढ़कर अच्छे से समझ  गए होंगे| अगर आपके मन में किसी तरह का सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हो| इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top