Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

OT Course Details In Hindi – OT कोर्स क्या है?

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे OT Course Details In Hindi, OT Course क्या है?,OT Technician Syllabus In Hindi यदि आप मेडिकल क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो OT नाम के बारे में जरूर सुना होगा| यह कोर्स एक समूह का हिस्सा होता है जो निर्देशों के तहत काम करता है| आइए इस लेख में हम OT कोर्स से सम्बंधित सभी जानकारियों के बारे में विस्तार से बताएँगे, इसलिए इस लेख को अंत तक पढ़ें, तो आइए जानते हैं: OT Course Details In Hindi, OT Course क्या है?, OT Technician Syllabus In Hindi

OT Course Details In Hindi

OT Course क्या है? (OT Course Details In Hindi)

OT टेक्निशियन का पूरा नाम “ऑपरेशन थियेटर टेक्निशियन” होता है| यह एक प्रकार का पैरामेडिकल कोर्स होता है और इसके अंतर्गत डिप्लोमा इन OT टेक्निशियन और बीएससी इन OT टेक्निशियन का कोर्स होता है| OT तकनीशियन आमतौर पर एक टीम का हिस्सा होता है जिसमें डॉक्टर, नर्स और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ शामिल होते हैं| यह मुख्यतौर पर सर्जरी का नेतृत्व करने वाले डॉक्टर के निर्देशों के तहत कार्य करता है|

OT Technician कोर्स के लिए योग्यता क्या होना चाहिए?

आयु सीमा:

  •  OT Technician कोर्स के लिए उम्मीदवारों का आयु 18 वर्ष से अधिक होना चाहिए|

शैक्षिक योग्यता:

  • OT Technician कोर्स के लिए उम्मीदवारों का न्यूनतम शिक्षा 12वीं में 45% अंकों के साथ पास होना जरूरी है वह भी साइंस स्ट्रीम से|
  • 12वीं साइंस के साथ ग्रेजुएट उम्मीदवार भी OT कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं|

नोट: कुछ संस्थान किसी भी स्ट्रीम (पाठ्यक्रम के आधार पर) से 10+2 उत्तीर्ण छात्रों को स्वीकार करते हैं|

लिंग: पुरुष और महिला दोनों इस कोर्स के लिए पंजीकरण कर सकते हैं।

OT Technician Course की अवधि कितनी होती है?

  • BSc OT Technician Course की अवधि 3 साल का होता है, यह एक डिग्री कोर्स है|
  • BSc कोर्स  करने के बाद MSc OT Technician Course भी किया जा सकता है|
  • MSc OT Technician Course 2 साल का कोर्स होता है|
  • शैक्षणिक कार्यक्रम में कक्षा व्याख्यान और व्यावहारिक सत्र शामिल हैं।
  • मूल्यांकन लिखित परीक्षा और व्यावहारिक परीक्षा के माध्यम से किया जाता है।

OT Technician Course के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?

  • प्रवेश प्रक्रिया अलग अलग संस्थानों में अलग अलग तरीके से किया जाता है|
  • ज्यादातर संस्थानों में योग्यता के आधार पर प्रवेश लिया जाता है|  
  • कुछ संस्थान ‘प्रत्यक्ष प्रवेश’ प्रक्रिया का पालन करते हैं। 
  • उच्च प्रोफ़ाइल के संस्थानों में उम्मीदवारों के चयन के लिए अपनी स्वयं की स्क्रीनिंग परीक्षा आयोजित करती है|

OT Technician कोर्स सिलेबस (OT Technician Syllabus In Hindi)

BSc की ऑपरेशन थियेटर टेक्निशियन विशेषज्ञता से ग्रेजुएशन डिग्री करने वाले विद्यार्थियों के लिए OT Assistant सिलेबस की सूची विषयों के साथ नीचे दी गई है।

1st Year OT Course Syllabus:

  •  शरीर क्रिया विज्ञान 
  •  जीव रसायन
  •  प्रबंधन के सिद्धांत
  • विकृति विज्ञान
  •  कंप्यूटर की मूल बातें
  •  शरीर रचना

2nd Year OT Course Syllabus:

  •  चिकित्सा रूपरेखा 
  •  क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजी 
  •  बुनियादी संवेदनाहारी तकनीक 
  •  एप्लाइड एनाटॉमी और फिजियोलॉजी 
  •  नैदानिक ​​औषध विज्ञान 
  •  संज्ञाहरण के सिद्धांत 
  •  चिकित्सा नैतिकता 

3rd Year OT Course Syllabus:

  •  सीएसएसडी प्रक्रियाएं 
  • विशेष सर्जरी के लिए संज्ञाहरण 
  •  सर्जरी की मूल बातें 
  •  क्षेत्रीय संवेदनाहारी तकनीक 

जो विद्यार्थी इस कोर्स को डिप्लोमा के माध्यम से करना चाहते हैं उनके लिए OT Technician diploma कोर्स का पाठ्यक्रम नीचे दिया गया है।

1st Year OT Course Syllabus:

  •  शरीर रचना
  •  शरीर क्रिया विज्ञान 
  • जीव रसायन
  •  औषध विज्ञान
  •  विकृति विज्ञान
  • कीटाणु-विज्ञान 
  • सर्जरी के सिद्धांत और अभ्यास
  •  बंध्याकरण, कीटाणुशोधन और अपशिष्ट निपटान
  • संज्ञाहरण और सीपीआर की मूल बातें
  •  कंप्यूटर और डेटा प्रोसेसिंग

2nd Year OT Course Syllabus:

  •  उपकरण- ओटी टेबल्स, ओटी की जानकारी और रखरखाव। लाइट्स, डायथर्मी, सकर मशीन आदि।
  • विशेष सर्जरी: सामान्य संचालन और उपकरण ट्रॉलियों का बिछाने व्यावहारिक कक्षाएं
  •  स्त्री रोग और प्रसूति 
  •  हड्डी रोग सर्जरी 
  •  उरोलोजि 
  •  बाल चिकित्सा सर्जरी 
  • सीटीवीएस 
  • प्लास्टिक सर्जरी 
  •  न्यूरो सर्जरी 
  •  नेत्र विज्ञान 
  •  ईएनटी 

OT Course करने के बाद कौन कौन से जॉब विकल्प होते हैं?

उम्मीदवार OT Technician कोर्स के बाद कई सारी जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं| इनमें से कुछ जॉब के नाम इस प्रकार है:

  • प्रयोगशाला तकनीशियन
  • ओटी तकनीशियन
  • एनेस्थिसियोलॉजी सलाहकार
  • सहयोगी सलाहकार
  • शिक्षक और व्याख्यान

OT Technician कोर्स के बाद उच्च पद के लिए कौन से कोर्स हैं?

उम्मीदवार OT Technician कोर्स के बाद कई सारी नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं| लेकिन जो विद्यार्थी OT Technician कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं तो वह आगे की पढ़ाई कर सकते हैं| आगे की पढ़ाई के लिए कोर्स विकल्प इस प्रकार है:

  • MBA
  • M.Phil
  • M.Sc operation theatre technology 
  • Certificate course in operation theatre technology 

OT Technician कोर्स के लिए शीर्ष कॉलेज कौन कौन से हैं?

भारत में OT Technician कोर्स के लिए कई कॉलेज मौजूद हैं आप कहीं से पढ़ाई कर सकते हैं| नीचे हम कुछ  कॉलेज की सूची दे रहें हैं जिनसे आप OT Technician कोर्स की तैयारी कर सकते हैं| 

  • वेलटेक यूनिवर्सिटी आंध्र प्रदेश 
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च चंडीगढ़ 
  • निम्स स्कूल पैरामेडिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी जयपुर 
  • राजीव गाँधी पैरामेडिकल इंस्टिट्यूट नई दिल्ली 
  • एसजीटी यूनिवर्सिटी गुडगाँव 
  • नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी 

OT Course के बाद वेतन कितनी मिलती है?

OT Course के बाद नौकरी प्राप्त करने पर उम्मीदवारों का प्रारंभिक वेतन 15,000 से लेकर 25,000 तक हो  सकता है| बाद में जिस तरह से उम्मीदवार का अनुभव बढता जाएगा उसी के अनुसार वेतन में भी वृद्धि होती जाएगी|

ये भी पढ़ें:

FAQ:

उत्तर : उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से 12वीं पास होना चाहिए।

प्रश्न : ओटी तकनीशियन का वेतन क्या है?

उत्तर : वेतन की कोई सीमा नहीं है| एक प्रशिक्षु स्तर के उम्मीदवार 10,000 से 20,000  रु. प्रतिमाह कमा  सकता है, वहीं एक अनुभवी तकनीशियन औसत 40,000  रु. मासिक वेतन कमा सकता है|

प्रश्न : क्या ऑपरेशन थिएटर टेक्नोलॉजिस्ट डॉक्टर है?
प्रश्न : क्या OT Course के लिए नीट जरूरी है?

FINAL ANALYSIS:

इस लेख में हमने जाना की OT Course Details In Hindi, OT Course क्या है?,OT Technician Syllabus In Hindi| मुझे उम्मीद है की आप इस लेख को पढ़कर OT कोर्स के बारें में अच्छे से समझ गए होंगे| अगर आप कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते| इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top