Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं? | Police Post List in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं?, Police Post List in Hindi, पुलिस एक ऐसा शब्द है जिनके बारे में हर कोई जानते हैं लेकिन दुनिया में ऐसे भी लोग हैं जिन्हें जानकारी नहीं है कि पुलिस विभाग में कौन-कौन से पद होते हैं, तो आइए इस लेख में हम पुलिस में होने वाले सभी पदों के बारे में बताने वाला हूँ इसलिए आप इस लेख को अंत तक पढ़ें, तो आइए जानते हैं: पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं?

पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं

पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं?

पुलिस विभाग में नौकरी के लिए कई सारे पद होते हैं नीचे विभिन्न प्रकार पुलिस पदों की सूची दी गई है-

  • पुलिस कांस्टेबल (Police Constable)
  • सीनियर कांस्टेबल (Senior Constable)
  • सब इंस्पेक्टर (Sub Inspector)
  • हेड कांस्टेबल (Head Constable)
  • सहायक उप निरीक्षक (Assistant Sub Inspector)
  • पुलिस निरीक्षक (Police Inspector)
  • सहायक पुलिस निरीक्षक (Assistant Police Inspector)
  • सहायक पुलिस अधीक्षक (Assistant Superintendent of Police)
  • उप पुलिस अधीक्षक (Deputy Superintendent of Police)
  • वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (Senior Superintendent of Police)
  • पुलिस उपमहानिरीक्षक (Deputy Inspector General of Police)
  • खुपिया ब्यूरो निदेशक (Intelligence Bureau Director)
  • अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (Additional Director General of Police)
  • पुलिस महानिदेशक (Director General of Police)

आइए अब हम ऊपर दी गई प्रत्येक पदों के बारे में एक-एक करके विस्तार जानते हैं-

पुलिस कांस्टेबल (Police Constable)

एक कांस्टेबल वह व्यक्ति होता है जो एक विशेष कार्यालय रखता है, जो आमतौर पर आपराधिक कानून प्रवर्तन में होता है। 12वीं पास करने के बाद कोई भी उम्मीदवार पुलिस कांस्टेबल के लिए आवेदन कर सकते हैं| कांस्टेबल के कंधे पर एक पट्टी होती है जिसमें एक भी स्टार नहीं होता है लेकिन साइड में दो सेवरोन लगी एक पट्टी होती है|

कॉन्स्टेबल का कार्यालय विभिन्न न्यायालयों में अलग-अलग हो सकता है। एक कांस्टेबल आमतौर पर पुलिस के भीतर एक अधिकारी का पद होता है। अन्य लोगों को इस उपाधि के बिना एक कांस्टेबल की शक्तियाँ प्रदान की जा सकती हैं।

सीनियर कांस्टेबल (Senior Constable)

सीनियर कांस्टेबल पद पर उम्मीदवार पुलिस कांस्टेबल के पद से पदोन्नति लेकर ही जा सकते हैं| सीनियर कांस्टेबल के कंधे पर एक पट्टी लगी होती है पर पट्टी में कोई स्टार नहीं होता है लेकिन साइड में दो सेवरोन लगी एक पट्टी होती है| 

सब इंस्पेक्टर (Sub Inspector)

सब-इंस्पेक्टर प्रथम जांच अधिकारी होता है जो अदालत में चार्जशीट दायर कर सकता है। वह अपराधों की जांच करता है और ऐसे अपराधों में शामिल व्यक्तियों को गिरफ्तार करता है। उन्हें थाने के प्रभारी अधिकारी के रूप में भी तैनात किया जा सकता है। 

इच्छुक उम्मीदवार सब इंस्पेक्टर दो प्रकार से बन सकते हैं, पहला सीधी भर्ती और दूसरा पदोन्नति द्वारा| सब इंस्पेक्टर की भर्ती ग्रेजुएशन बेस पर भी किया जा सकता है इसके अलावा ASI के पद से पदोन्नति होकर भी उम्मीदवार सब इंस्पेक्टर बन सकते हैं| सब इंस्पेक्टर के कंधे पर 2 स्टार लगे होते हैं औए लाल, नीले रंग की पट्टी होती है| 

हेड कांस्टेबल (Head Constable)

हेड कांस्टेबल सभी आधिकारिक फाइलों और रिकॉर्ड को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए उत्तरदायी होता है। वह दैनिक रिपोर्ट बनाता है और सभी रिपोर्टों को अपने से उच्च स्तर के पुलिस अधिकारियों को सौंपता है। हेड कांस्टेबल के कंधे पर एक पट्टी होती है पर पट्टी में एक भी स्टार नहीं होता है, लेकिन साइड में 3 सेवरोन लगी एक पट्टी होती है| 

सहायक उप निरीक्षक (Assistant Sub Inspector)

सहायक उप निरीक्षक की नौकरी और काम की जिम्मेदारियां सब-इंस्पेक्टर के जैसे ही होती है। वह अपने से उच्च अधिकारियों के लिए घटना की सभी जांच रिपोर्ट बनाता है। वह अक्सर पुलिस स्टेशन या जांच केंद्र के प्रभारी अधिकारी के रूप में काम करता है। सहायक उप निरीक्षक के कंधे पर 1 स्टार होती है और लाल, नील रंग की 2 पट्टी होती है|

पुलिस निरीक्षक (Police Inspector)

पुलिस इंस्पेक्टर पुलिस स्टेशन का इंचार्ज होता है| पुलिस निरीक्षक के लिए कोई सीधी भर्ती नहीं होती है उम्मीदवार सब इंस्पेक्टर के पद से पदोन्नति प्राप्त करके ही एक पुलिस निरीक्षक बन सकते हैं| पुलिस निरीक्षक के कंधे पर 3 स्टार होते हैं और लाल, नीले रंग की पट्टी होती है|

सहायक पुलिस निरीक्षक (Assistant Police Inspector)

सहायक पुलिस निरीक्षक एक पुलिस स्टेशन का सहायक कार्यालय प्रभारी होता है। सहायक पुलिस निरीक्षक का काम  पुलिस विभाग में इंस्पेक्टर के समान ही होता है। वह अपने अधीनस्थ अन्य कार्मिकों के प्रभावी कार्यकरण और प्रबंधन के लिए उत्तरदायी होता है। सहायक पुलिस निरीक्षक के कंधे पर 3 स्टार होते हैं और लाल रंग की पट्टी होती है|

सहायक पुलिस अधीक्षक (Assistant Superintendent of Police)

सहायक पुलिस अधीक्षक कानून और व्यवस्था के रखरखाव और विशेष और स्थानीय कानूनों के प्रवर्तन के लिए उत्तरदायी होता है। वह अपने क्षेत्र के अन्दर अपराध की जांच और अपराध की रोकथाम के लिए भी जिम्मेदार होता है। ये IPS अधिकारी के प्रशिक्षण का समय होता है इसमें 1 वर्ष में 1 स्टार, 2 वर्ष में 2 स्टार और 3 वर्ष में 3 स्टार और IPS लिखा होता है| 

उम्मीदवार का प्रशिक्षण पूरी हो जाने के बाद वह एक सहायक पुलिस अधीक्षक बनते हैं| सहायक पुलिस अधीक्षक के कंधे पर एक अशोक स्तम्भ का चिन्ह और उसके नीचे IPS शब्द लिखा होता है|

उप पुलिस अधीक्षक (Deputy Superintendent of Police)

पुलिस उपाधीक्षक मुख्य उद्देश्य जिले के अन्दर कानून व्यवस्था को सूचारु रूप से बनाए रखना है। अपराध की रोकथाम, अपराध की जांच और विशेष और स्थानीय कानूनों को लागू करना भी उप पुलिस अधीक्षक का जिम्मेदारी है। वह अपराध स्थल का दौरा करता है और जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाता है।

उप पुलिस अधीक्षक के कंधे पर 3 स्टार लगे होते हैं और STATE का नाम लिखे होते हैं| मेट्रो शहरों में उप पुलिस अधीक्षक पद को ACP भी कहा जाता है| 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (Senior Superintendent of Police)

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अपराध की रोकथाम, जांच और पता लगाने में सहायता करता है। वह पुलिस स्टेशनों की गतिविधियों का प्रबंधन करता है और अपराध को नियंत्रित करने में उनकी योग्यता सुनिश्चित करता है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कंधे पर एक अशोक स्तम्भ का चिन्ह, दो स्टार और उसके नीचे IPS लिखा होता है| मेट्रो शहरों में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पद को डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस के नाम से भी जानते हैं|

पुलिस उपमहानिरीक्षक (Deputy Inspector General of Police)

पुलिस उप महानिरीक्षक जिलाधिकारी के सहयोग से कार्य करता है। वह DGP और अन्य उच्च रैंक के अधिकारियों को रिपोर्ट प्रदान करता है। पुलिस उप महानिरीक्षक के कंधे पर एक स्टार और छड़ी कर्पाण से एक क्रॉस बना होता है और उसी के नीचे IPS लिखा होता है| पुलिस उप महानिरीक्षक काम राज्य में प्रभावी पुलिस अनुशासन बनाए रखना है। 

खुपिया ब्यूरो निदेशक (Director of Intelligence Bureau)

इंटेलिजेंस ब्यूरो (DIB) के निदेशक, इंटेलिजेंस ब्यूरो, भारत की प्रमुख घरेलू-खुफिया एजेंसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। DIB भारत का सबसे वरिष्ठ भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी है। खुपिया ब्यूरो निदेशक के कंधे पर एक अशोक स्तम्भ, एक स्टार और एक छड़ी कर्पाण से क्रॉस का चिन्ह बना होता है| 

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (Additional Director General of Police)

ADGP DGP पद के बाद दूसरी सबसे बड़ी पद होती है। एडिशनल पुलिस महानिदेशक कानून और व्यवस्था को नियंत्रित करने और बनाए रखने में सहायता करते हैं। राज्य के अन्दर अपराध को नियंत्रित करने के लिए निवारक कदम उठाने में भी मदद करते हैं| एडिशनल पुलिस महानिदेशक के कंधे पर एक अशोक स्तम्भ और छड़ी कर्पाण से क्रॉस का एक चिन्ह बना होता है उसी के नीचे IPS लिखा होता है|

पुलिस महानिदेशक (Director General of Police)

DGP सर्वोच्च रैंक का पुलिस अधिकारी होता है। वह राज्य सरकार के सलाहकार के रूप में कार्य करता है और राज्य पुलिस बल का प्रबंधन करता है। वह राज्य के अन्य पुलिस अधिकारियों को नौकरी की जिम्मेदारियां भी सौंपता है। पुलिस महानिदेशक के कंधे पर एक अशोक स्तम्भ का चिन्ह लगा होता है और साथ में छड़ी कर्पाण का चिन्ह भी बना होता है और उसी के नीचे IPS लिखा होता है|

ये भी पढ़ें:

FAQ:

प्रश्न: खुपिया ब्यूरो निदेशक पद में कितने स्टार होते हैं?

उत्तर: खुपिया ब्यूरो निदेशक पद में 1 स्टार होते हैं?

प्रश्न: उप पुलिस अधीक्षक पद को दूसरे किस नाम जाना जाता है?

उत्तर: उप पुलिस अधीक्षक पद को ACP भी कहा जाता है|

प्रश्न: उच्च SP या DCP कौन होता है?

उत्तर: आयुक्तालय प्रणाली में पुलिस रैंक के पास पारंपरिक प्रणाली की तुलना में अधिक शक्तियाँ और अधिकार क्षेत्र हैं। DCP या पुलिस उपायुक्त के पास SP की तुलना में अधिक शक्तियां होती हैं। उम्मीदवार यहां पुलिसिंग के IG और आयुक्तालय प्रणाली में समकक्ष पुलिस रैंक देख सकते हैं।

प्रश्न: भारतीय पुलिस में कौन सा रैंक सर्वोच्च है?

उत्तर: पुलिस महानिदेशक (DGP) राज्य पुलिस में सर्वोच्च पुलिस रैंक है। यह भारतीय पुलिस पदानुक्रम में सर्वोच्च पद है। राज्य में पुलिस अधिकारियों में DGP का वेतन बैंड सबसे अधिक है।

प्रश्न: हेड कांस्टेबल क्या काम करता है?

उत्तर: हेड कांस्टेबल सभी आधिकारिक फाइलों और रिकॉर्ड को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए उत्तरदायी होता है। वह दैनिक रिपोर्ट बनाता है और सभी रिपोर्टों को अपने से उच्च स्तर के पुलिस अधिकारियों को सौंपता है।

FINAL ANALYSIS:

इस लेख में हमने जाना कि पुलिस विभाग में कितने पद होते हैं?, Police Post List in Hindi, आशा करता हूँ इस लेख को पढ़ने के बाद पुलिस विभाग के सभी पदों के बारे में आपको जानकारी मिल गई होगी| अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं| इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top