SSC GD Medical Test Details In Hindi जाने सम्पूर्ण जानकारी

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे SSC GD Medical Test Details In Hindi, SSC GD Medical Test कैसे होता है?, जो उम्मीदवार SSC GD पद में जाना चाहते हैं उसे आवेदन करने से पहले सम्पूर्ण Medical Test के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है| क्योंकि कई सारी उम्मीदवारों  को Medical Test के सही जानकारी न होने के कारण उन्हें भर्ती से बाहर कर दिया जाता है| इसलिए जब आपको Medical Test के लिए बुलाया जाएगा उस समय अपने शरीर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखना चाहिए| आइए, इस लेख में हम SSC GD Medical Test के बारे में विस्तार से बताएँगे, इसलिए आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें, तो आइए जानते हैं: SSC GD Medical Test Details In Hindi, SSC GD Medical Test कैसे होता है?

SSC GD Medical Test Details In Hindi

SSC GD Medical Test Details In Hindi

SSC GD भर्ती में उम्मीदवारों का सबसे पहले परीक्षा लिया जाता है, कभी कभी SSC GD भर्ती में परीक्षा से पहले फिजिकल टेस्ट कराया जाता है उसके बाद में परीक्षा लिया जाता है| जो उम्मीदवार परीक्षा में उत्तीर्ण करता है उन्हें मेडिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है| SSC GD में मेडिकल टेस्ट के मुख्य 18 चरण होते हैं जो इस प्रकार हैं:

चरण: 1.  Chest Test:

SSC GD भर्ती में Chest से ही Medical Test की शुरुआत की जाती है| इस टेस्ट में उम्मीदवारों की छाती की न्यूनतम माप 77 सेमी. होना आवश्यक है| इस टेस्ट में उम्मीदवार को 5 सेमी. अपना छाती को फुलाना पड़ता है| जो उम्मीदवार जाँच के समय अपना छाती फूलाने में असफल होती हैं उन्हें भर्ती से निकाल दिया जाता है|

चरण: 2. Weight Test:

SSC GD की इस भर्ती में जो भी उम्मीदवार दौड़ में उत्तीर्ण प्राप्त करते हैं, उनका Medical Test लिया जाता है| इसके अलावा सबसे बड़ी जानकारी यह होना चाहिए कि आपकी जितनी लंबाई होगी उसके अनुसार आपके शरीर का वजन भी होना चाहिए जो की एक नॉर्मल वजन 50 KG होना चाहिए|

चरण: 3. Body Marks Test 

Body Marks Test  के समय आपके शरीर में उस निशान को देखा जाता है जो कि आप ने बनवाए हैं या फिर नेचुरल बन गए हैं अर्थात आपके शरीर में हाथों में कहीं पर टैटू तो नहीं है या किसी प्रकार का कोई कट का निशान तो नहीं है| अगर आपके शरीर में किसी भी प्रकार का कोई भी निशान पाया जाता है तो उस निशान की अच्छी तरीका से जांच होती है और जो भी जांचकर्ता होते हैं उनके अनुसार अगर आप के निशान शरीर पर गलत जगहों पर हुआ तो आपको भर्ती से बाहर भी किया जा सकता है| किसी चोट का निशान होने पर इतनी प्रॉब्लम नहीं आती जितनी कि किसी टैटू का निशान होने पर आती है|

चरण: 4. Knock Knee Test

Knock Knee Test मैं सभी उम्मीदवार को सावधान अवस्था में खड़ा किया जाता है और टेस्ट के दौरान आपके पैरों से लेकर घुटने तक आपके पैरों को अच्छी तरह से देखा जाता है| Knock Knee Test मैं आपके घुटने मिल तो नहीं रहें हैं | अगर आपके घुटने आपस में मिल रहे होंगे तो आपको इस भर्ती से बाहर निकाल दिया जा सकता है|

5. Legs Veins Test:

Legs Veins Test के दौरान आपके पैरों की नसों का जाँच किया जाता है| जाँच में अगर आपके पैर के जस्ट बेक साइड में और पैर के लेफ्ट साइड में जो नसें होती है उनका टेस्ट होता है कहीं आप की नसें फूल तो नहीं रही या फिर अन्य कोई प्रॉब्लम तो नहीं है|

6. Flat Foot Test:

Flat Foot Test मैं आपकी पैर के तलवे के नीचे खली जगह होना चाहिए| सभी लोगों ने देखा होगा कि हमारे तलवे के नीचे जगह होती है हम किसी भी चोरस स्थल पर अपना पैर रखकर इसके जाँच कर सकते हैं| अगर आपके के तलवे के नीचे कोई खाली जगह नहीं है तो आपको भर्ती से बाहर कर दिया जाएगा|

7. Feet Fingers Test:

Feet Fingers Test के दौरान आपके पैरों की उंगलियों की जांच की जाती है| इस टेस्ट में आपके उंगलियों का साइज देखा जाता है और उनकी आकृति और लंबाई भी देखी जाती है| जिस प्रकार से आपके पैर की उंगलियां कहीं अधिक लंबी तो नहीं है या फिर किसी उंगली की कम लंबाई और किसी की बहुत अधिक लंबाई है तो किसी प्रकार की प्रॉब्लम हो सकती है| आपकी उंगलियों का गैप और उनकी लंबाई या नॉर्मल होना चाहिए तो आपको किसी भी प्रकार की कोई भी प्रॉब्लम नहीं आएगी |

8. Eyes Test:

Eyes Test सभी उम्मीदवार का 3 स्टेज में होता है जो इस प्रकार है:

  • 1st Eye Test:

इस टेस्ट में आपके के सामने एक पेंसिल को घुमाया जाएगा, जिस तरह उस पेंसिल को घुमाई जाएगी उसी और आपकी आंखों का जो काला भाग होता है उसे उस पेंसिल की तरफ घुमाना होता है| आपको यह ध्यान रखना है है कि इसमें आपको अपनी गर्दन को पेंसिल की और नहीं घुमाना है|

  • 2nd Eyes Test:

इस टेस्ट में आपकी दोनों आंखों की जांच की जाती है| इसमें आपको दूर और पास के चीज को सही तरीके से देख पाते हैं या नहीं इसकी परिक्षण लिया जाता है| इस परिक्षण में आपके एक ऐसा चार्ट दिखाया जाता है जिसमें  कुछ छोटे और बड़े, पतले और मोटे अंक लिखे होते हैं जिसे आपको सही तरीके से पहचानना होगा| 

  • 3rd Eyes Test Blind Test:

तीसरे टेस्ट के दौरान आपको एक ऐसा चार्ट दिखाया जाता है जिसमें गहरे कलर में कोई अंक लिखा होता है या फिर कुछ और लिखा होगा बस उसे पढ़ कर बताना होता है इस प्रकार से Blind Test होता है| इस प्रकार के टेस्ट को Color Vision Test भी कहते हैं| 

9. Ear Test:

Ear Test में उम्मीदवारों के कानों को अच्छी तरीका से देखा जाता है| कहीं आपके कान के अंदर किसी भी प्रकार का कोई भी फोड़ा फुंसी तो नहीं है या फिर किसी भी प्रकार की गंदगी नहीं होना चाहिए और आप की सुनने की क्षमता सही है यह भी अच्छी तरीका से जाँच किया जाता है| 

10. Nose Test:

Nose Test टेस्ट में उम्मीदवारों के नाक को अच्छी तरीका से देखा जाता है| कहीं आपके नाक के अंदर भी किसी भी प्रकार का फोड़ा फुंसी तो नहीं है या फिर इसके अलावा आपकी नाक की जो हड्डी है वह कहीं पर टूटी  तो नहीं है या अन्य किसी भी तरह की कोई समस्या तो नहीं है| Nose Test में मुख्य रूप से में इसी के बारे में जाँच की जाती है|

11. Teeth Test:

Teeth Test में उम्मीदावर के दांतों को अच्छी तरीका से जांचा जाता है और इस जांच के दौरान आपके दांतो का साइज सही है या नहीं और कहीं आपके दांत में कीड़े की समस्या तो नहीं है| यदि किसी का दांत अपने मुंह से थोड़ा सा बाहर भी रहता है उसे इस भर्ती से बाहर कर दिया जाता है| इसलिए जब भी मेडिकल टेस्ट हो तो अपने दांतों की अच्छी तरीका से साफ सफाई करने के बाद ही मेडिकल टेस्ट करवाना चाहिए|

12. Heart Test:

Heart Test में उम्मीदवार के हृदय की जांच की जाती है और इस जांच के समय आपके हृदय की धड़कनों को जाँच किया जाता है कि कहीं आपकी धड़कने अधिक तेज तो नहीं है या फिर आप की धड़कन कम तो नहीं है|  Heart Test के दौरान आप की धड़कन बिलकुल सामान्य होना चाहिए |

13. Blood Presure Test:

Blood Presure Test में उम्मीदवारों के Blood Presure को अच्छी तरीका से जांच की जाती है कहीं ब्लड  प्रेशर अधिक तो नहीं है या फिर आपका ब्लड प्रेशर बहुत कम तो नहीं है| इसी की अच्छी तरीका से जांच की जाती है अर्थात आपका ब्लड प्रेशर नार्मल होना चाहिए | लेकिन इसमें इतनी अधिक समस्या नहीं आती है बस आपको सावधानी रखने की जरूरत पड़ती है|

14 . Palm Test:

Palm Test के समय उम्मीदवारों की हथेलियों की जांच की जाती है, इस जांच में यह देखा जाता है की हथेलियों में कहीं ज्यादा मात्रा में पसीना तो नहीं आता है| आपसे पहले हथेलियों से मुट्ठी मारने के लिए बोलेंगे और थोड़ी देर बाद आपकी मुट्ठी खुलवाएंगे अगर इस दौरान आपके हथेलियों पर पसीना अधिक होता है तो आपको भर्ती से निकाला जा सकता है|

15. Full Body X-ray Test:

Full Body X-ray Test में उम्मीदवार की संपूर्ण हिस्सा का X-ray करवाया जाता है| यह इसलिए करवाया जाता है क्योंकि बहुत से लोगों की हड्डियां टूटी रहती हैं| इसलिए यह जाँच की जाती है कि उम्मीदवार की सभी अंगों की हड्डियां पूरी तरह से ठीक है की नहीं| अगर हड्डियां में किसी तरह का समस्या पाया जाता है तो उन्हें भर्ती होने से इंकार कर दिया जाता है|

16. Testicles Test:

Testicles Test में उम्मीदवार के अंडकोष का चेकअप किया जाता है इस जांच के दौरान उम्मीदवार के अंडकोष को अच्छी तरीका से जांचा जाता है कि कहीं उनका साइज़ अधिक तो नहीं है या फिर कम ज्यादा तो नहीं है| इस जांच के दौरान यह भी देखा जाता है कि आपको किसी बड़ी समस्या के शिकार तो नहीं है या फिर आपके गुप्त अंग में कोई प्रॉब्लम तो नहीं है | इस जांच के दौरान आपका कहीं एक अंडकोष बड़ा तो नहीं या एक अंडकोष छोटा तो नहीं इस प्रकार से जांच की जाती है |

17. Paragraph Test:

Paragraph Test में उम्मीदवार को एक पैराग्राफ दिया जाता है जिसे सिर्फ पढ़कर सुनना होता है| इस टेस्ट में उम्मीदवारों को ऐसा इसलिए करना होता है की जब कभी भी कोई पार्शल या कागजात पढ़ने के लिए दिया जाता है तो वह किस तरह से पढ़ पता है या नहीं इसका बस परिक्षण लिया जाता है| Paragraph Test टेस्ट सभी उम्मीदवारों के लिए एक आसान सा टेस्ट होता है|

18. Introduction Test:

इस टेस्ट में उम्मीदवारों का परिचय लिया जाता है इसके दौरान सिर्फ आपसे बातें की जाती है और इन बातों के दौरान आपके स्वभाव और आपकी बातों को परखा जाता है यह एकदम नॉर्मल इंट्रोडक्शन रहता है इंटरव्यू की तरह लेकिन इसमें आपका नाम या आपके बारे में कुछ जानकारी ले सकते हैं|

ये भी पढ़ें:

FAQ:

प्रश्न : SSC GD भर्ती में सबसे पहले क्या करवाया जाता है?

उत्तर : SSC GD भर्ती में सबसे पहले उम्मीदवार को दौड़वाया जाता है|

प्रश्न : Ear Test में क्या होता है?

उत्तर : इसमें उम्मीदवार के कानों को जांचा जाता है की उम्मीदवार सही तरीके से सुन सकता है या नहीं|

प्रश्न : जिसके शरीर में टैटू का निशान होता है क्या वह SSC GD के लिए पात्र है?

उत्तर : नहीं|  जिसके शरीर में टैटू का निशान होता है वह SSC GD के लिए पात्र नहीं होंगे|

प्रश्न :  क्या पुरुष उम्मीदवार 50 KG से कम होने पर SSC GD के लिए पात्र होंगे?

उत्तर : नहीं| पुरुष उम्मीदवार का न्यूनतम वजन 50 KG है| SSC GD में हाईट के हिसाब से वजन होना जरूरी है|

FINAL ANALYSIS:

इस लेख में हमने जाना की SSC GD Medical Test Details In Hindi, SSC GD Medical Test कैसे होता है?, इस लेख के जरिये हमने SSC GD Medical Test के बारे में सारी जानकारी साझा की है, मुझे उम्मीद है की आप इस लेख को पढ़कर अच्छे से समझ गए होंगे| अगर आपके मन में किसी तरह का सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं धन्यवाद|

6 COMMENTS

    • Thanks comment krne ke liye…. aapko bta de.. Iski bare me officially kahi bhi jankari nahi hai… Isilie mujhe lgta hai aap eligible hai… Lekin phir bhi aap ssc gd me kam kar rhe log se puch skte hain!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here