Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

UKPSC क्या है? UKPSC Full Form In Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज के लेख में बात करेंगे UKPSC क्या है?, UKPSC Full Form In Hindi, UKPSC में कौन कौन से पोस्ट होते हैं?, UKPSC Qualification Details In Hindi, आदि के बारे में विस्तार से जानेंगे, आप अगर उत्तराखंड के निवासी हैं, तो UKPSC के बारे में अवश्य सुना होगा, इस लेख में हम आपको विस्तार से इसके बारे में बताएँगे, तो आइए जानते हैं: UKPSC क्या है?, UKPSC Full Form In Hindi

UKPSC Full Form In Hindi

UKPSC क्या है? (What Is UKPSC In Hindi)

UKPSC परीक्षा उत्तराखंड सरकार के विभिन्न विभागों के अलावा राज्य सिविल सेवा में परीक्षा और भर्ती आयोजित करने वाला एक प्रमुख निकाय है| उत्तराखंड के राज्यपाल द्वारा भारत के संविधान के अनुच्छेद 315 के प्रावधानों के तहत उत्तराखंड लोक सेवा आयोग का गठन किया गया था। UKPSC आयोग का कार्य, उत्तराखंड लोक सेवा आयोग प्रक्रिया और व्यवसाय सिध्दांत 2007 से सुव्यवस्थित होता है।

UKPSC का विवरण (UKPSC Details In Hindi)

संगठन का नाम उत्तराखंड लोक सेवा आयोग
परीक्षा का स्तर राजस्तरीय
आवृत्ति हर साल
आवेदन का तरीका ऑनलाइन
आवेदन शुल्क
  • यूआर/ओबीसी/अन्य राज्य- 150 रुपये
  • उत्तराखंड एससी/एसटी- 60 रुपये
परीक्षा मोड ऑफलाइन
परीक्षा की अवधि प्रीलिम्स- 2 घंटे, मेन्स- 3 घंटे
भाषा अंग्रेजी और हिंदी
आधिकारिक वेबसाइट https://ukpsc.gov.in/

 

UKPSC का फुल फॉर्म क्या है? (UKPSC Full Form In Hindi)

UKPSC का फुल फॉर्म UTTRAKHAND PUBLIC SERVICE COMMISSION होता है, जिसे हिंदी में “उत्तराखंड लोक सेवा आयोग” कहते हैं|

UKPSC की योग्यता क्या है? (UKPSC Qualification in Hindi)

उम्मीदवार परीक्षा में आवेदन करने से पहले परीक्षा के लिए पात्रता पता होनी चाहिए, UKPSC पात्रता मानदंड कुछ सेवाओं के लिए राष्ट्रीयता, शिक्षा, आयु सीमा और शारीरिक विशेषताओं जैसे कई कारकों पर आधारित हैं। प्रत्येक श्रेणी में पात्रता का पूरा विवरण निम्नलिखित है:

शैक्षिक योग्यता:

  • कैंडीडेट के पास मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए|

आयु सीमा:

  • UKPSC परीक्षा में आवेदन के लिए न्यूनतम उम्र 21 और अधिकतम 42 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

UKPSC आयु में छूट कितनी होती है?

कुछ विशिष्ट श्रेणी के उम्मीदवारों को आयु में छूट दी गई है, जिसका विवरण नीचे दिया गया है।

श्रेणियाँ आयु में छूट
ओबीसी उम्मीदवार 3 साल
एससी/एसटी उम्मीदवार 5 साल

 

राष्ट्रीयता: 

  • उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए|

शारीरिक आवश्यकताएँ:

कुछ पद ऐसे होते हैं जिनके लिए कुछ विशिष्ट भौतिक विशेषताओं की भी आवश्यकता होती है। होमगार्ड पोस्ट, पुलिस अधीक्षक और जिला कमान के लिए उम्मीदवार द्वारा पूरी की जाने वाली शारीरिक विशेषताएं निम्नलिखित हैं।

पुलिस अधीक्षक:

निम्न तालिका अधीक्षक पदों के लिए आवश्यक विभिन्न मानदंडों को सूचीबद्ध करती है।

ऊंचाई (पुरुष/महिला) दोनों के लिए:

श्रेणी पुरुष  महिला
सामान्य उम्मीदवार  167.7 सेमी 152 सेमी
अनुसूचित जनजाति उम्मीदवार के लिए 160 सेमी 147 सेमी
पर्वतीय क्षेत्र के उम्मीदवार के लिए 162.6 सेमी 147 सेमी

 

पुरुष कैंडीडेट के लिए छाती का माप:

श्रेणी सामान्य अवस्था में  विस्तार के अवस्था में
सामान्य और अन्य 76.5 सेमी 81.5 सेमी
एसटी / पर्वतीय क्षेत्र के उम्मीदवार 78.8 सेमी 83.8 सेमी

 

होमगार्ड की जिला कमान:

होम गार्ड के जिला कमांड पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को पद के लिए पात्र होने के लिए निम्नलिखित शारीरिक आवश्यकताओं को पूरा करना होगा।

श्रेणी ऊंचाई छाती सामान्य अवस्था में छाती विस्तार करके
पुरुष 165 सेमी 84 सेमी 89 सेमी
महिला 150 सेमी 79 सेमी 84 सेमी 
पर्वतीय क्षेत्र / एसटी उम्मीदवार 160 सेमी 84 सेमी  89 सेमी

UKPSC में कौन कौन से पोस्ट होते हैं?

UKPSC परीक्षा पास करने के बाद आपको निम्नलिखित पदों पर नियुक्ति होती है:

  • पुलिस उपाधीक्षक पद 
  • वित्त अधिकारी पद 
  • सहायक संभागीय परिवाहन अधिकारी पद 
  • सहायक निदेशक उद्योग पद 
  • जिला पर्यटन अधिकारी पद 
  • पौध सुरक्षा अधिकारी पद 
  • सहायक निदेशक रसायन पद 
  • सहायक निदेशक वनस्पति विज्ञान पद 
  • सूचना अधिकारी पद 
  • बाल विकास परियोजना अधिकारी पद 
  • कृषि एवं भूमि संरक्षण अधिकारी पद 
  • खंड विकास अधिकारी पद 
  • उपशिक्षा अधिकारी स्टाफ ऑफिसर पद 
  • केंद्र प्रभारी कृषि सेवा पद 
  • कृषि विभाग पद 

UKPSC चयन प्रक्रिया कैसे होती है?

UKPSC परीक्षा में उम्मीदवारों का चयन तीन चरणों में किया जाता है:

  • प्रीलिम्स परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार

स्टेज 1: प्रीलिम्स परीक्षा:

उत्तराखंड में पीएससी परीक्षा का पहला चरण प्रीलिम्स परीक्षा है, जहां उम्मीदवार को सामान्य अध्ययन के दो पेपर और एक एप्टीट्यूड टेस्ट देना होता है। यदि उम्मीदवार इस परीक्षा को पास करता है तो उम्मीदवार मुख्य परीक्षा के लिए योग्य माने जाते हैं|

स्टेज 2: मुख्य परीक्षा:

उत्तराखंड में पीएससी परीक्षा का दूसरा चरण मुख्य परीक्षा है, जहां उम्मीदवार को 7 पेपर देने होते हैं। उम्मीदवार का चयन बोर्ड द्वारा जारी कटऑफ के आधार पर किया जाएगा। सूची के शीर्ष उम्मीदवार का चयन साक्षात्कार चरण के लिए किया जाएगा|

स्टेज 3 साक्षात्कार:

अंतिम दो चरणों में सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार बोर्ड द्वारा आयोजित साक्षात्कार देने के लिए पात्र हैं। साक्षात्कार भी कुल 200 अंकों का होता है। उम्मीदवार का चयन मेरिट के आधार पर किया जाएगा। यदि उम्मीदवार एक साक्षात्कार में पास हो जाता है तो उम्मीदवार पूर्ण अवधि में काम करने से पहले कुछ महीनों के प्रशिक्षण के तहत जाएगा|

UKPSC पास करने के बाद वेतन कितनी मिलती है?

पीएससी परीक्षा पूरी करने के बाद उम्मीदवार को औसत वेतन 4-5 लाख रुपये सालाना मिलते हैं, उम्मीदवारों को काम करते समय विभिन्न भत्ते और अन्य लाभ भी मिलते हैं। 

निम्नलिखित लाभ और भत्ते हैं:

  • मकान किराया भत्ता
  • महंगाई भत्ता
  • बक्शीश
  • चिकित्सा भत्ता
  • ओवरटाइम भत्ता
  • पेंशन लाभ

ये भी पढ़ें:

FAQ:

प्रश्न : UKPSC प्रारंभिक परीक्षा में क्या आता है?

उत्तर : प्रीलिम्स पेपर में सामान्य अध्ययन और सामान्य योग्यता सहित 2 पेपर होते हैं, प्रत्येक में 150 अंक होते हैं। ये दोनों पेपर वस्तुनिष्ठ प्रकृति के हैं और पेपर की अवधि 2 घंटे है।

प्रश्न : क्या UKPSC परीक्षा में प्रयासों की संख्या की कोई सीमा है?

उत्तर : नहीं, UKPSC परीक्षा में प्रयासों की संख्या की कोई सीमा नहीं है। उम्मीदवार कितनी भी बार परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं, यह देखते हुए कि वह आयु सीमा से कम है और पात्रता मानदंड को पूरा करता है।

प्रश्न : इंटरव्यू पास करने के बाद क्या होता है?

उत्तर : परीक्षा और साक्षात्कार के लिए अर्हता प्राप्त करने के बाद उम्मीदवार प्रशिक्षण में नामांकन करेगा। प्रशिक्षण उत्तराखंड प्रशासनिक अकादमी, नैनीताल में कुल 3 महीने का है जिसे आरएसटी प्रशिक्षण के रूप में भी जाना जाता है।

प्रश्न : मुझे UKPSC पीसीएस परीक्षा की तैयारी कब शुरू करनी चाहिए?

उत्तर: उम्मीदवारों को जल्द से जल्द तैयारी शुरू कर देनी चाहिए ताकि उन्हें सभी अवधारणाओं पर ध्यान केंद्रित करने के लिए पर्याप्त समय मिल सके। परीक्षा की तैयारी के लिए कम से कम 6-8 महीने का समय चाहिए।

FINAL ANALYSIS:

आज के इस लेख में हमने जाना की UKPSC क्या है?, UKPSC Full Form In Hindi, UKPSC में कौन कौन से पोस्ट होते हैं?, UKPSC Qualification Details In Hindi आदि| मुझे उम्मीद है की आपको इस लेख में से UKPSC के बारे में संपूर्ण जानकारी मिला होगा, अगर आपके मान में कोई सवाल है तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हो, इस लेख को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top