Top Hindi Jankari

TOP HINDI JANKARI हिंदी वेबसाइट पर आपको बहुत ही आसान और सरल भाषा में जानकारी दी जाती है । यह वेबसाइट बनाने का मुख्य कारण है हिंदी भाषा से आपको विभिन्न प्रकार के जानकारियां आप तक सही तरीके से पहुंचे ।

Vaibhavi Upadhyaya: कौन थीं वैभवी उपाध्याय? “साराभाई वर्सेस साराभाई” में एक्टिंग कर चुकी थी

वैभवी उपाध्याया, जिन्हें हिमाचल प्रदेश में हुई एक गंभीर सिरचोट ने जान से मार दिया, की अंतिम संस्कार बुधवार को किए जाएंगे। अभिनेत्री वैभवी उपाध्याया, जो मशहूर टेलीविजन सीरियल ‘सराभाई बने चिराग़दानी: टेक 2’ में अपनी शानदार अभिनय की वजह से प्रसिद्ध हुई थीं, हिमाचल प्रदेश में हुई एक सड़क दुर्घटना में जान गंवा बैठीं। उन्होंने राज्य के कुल्लू ज़िले के बंजार क्षेत्र में अपनी जान गंवाई है।

वैभवी कौन थीं?

वैभवी का जन्म 28 जुलाई, 1990 को गुजरात में हुआ था। उनकी एक बहन जिनल ठाकर और एक भाई अंकित उपाध्याय भी हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, वे जय सुरेश गांधी से विवाहित थीं।

दुर्घटना कैसे हुई?

दुर्घटना इसलिए हुई क्योंकि उनकी कार, एक फॉर्चूनर, गहरे खड़ी चोटियों में गिर गई। घटना की संघर्षपूर्ण मोड़ पर चल रही थी। वैभवी के अलावा, उनके प्रेमी भी गाड़ी में सवार थे।

पुलिस ने क्या कहा?

कुल्लू के एसपी साक्षी वर्मा ने समाचार एजेंसी PTI को बताया, “वैभवी ने वाहन से खिड़की के माध्यम से बाहर निकलने की कोशिश की और उन्हें एक सिरचोट लगी, जो घातक साबित हुई, जबकि दूसरे यात्री कोई चोट नहीं आई।” उनकी अंतिम संस्कार, जो उनकी तीसों के आस-पास उम्र में ही हो गईं, बुधवार को मुंबई में होंगी, साक्षी ने जोड़ा।

आखिरी श्रद्धांजलि अभिनेत्री को समर्पित:

सराभाई बने चिराग़दानी के निर्माता जे डी मजेठिया ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर वैभवी की मौत की खबर साझा की। उन्होंने लिखा, “ज़िंदगी बहुत अपूर्व होती है। एक अत्यंत उत्कृष्ट अभिनेत्री, मेरी प्रिय मित्र वैभवी उपाध्याय जो ‘सराभाई बने चिराग़दानी’ के ‘जैस्मिन’ के रूप में मशहूर हुईं, हमें छोड़कर चली गईं। उन्हें उत्तरी भारत में एक हादसे में घायल हो गई हैं।” सराभाई बने चिराग़दानी के कास्ट सदस्यों ने सोशल मीडिया पर भी अभिनेत्री के लिए श्रद्धांजलि अर्पित की। सतीश शाह, जिन्होंने इंद्रवदन का किरदार निभाया, ने उन्हें “एक अत्यंत उत्कृष्ट अभिनेत्री और सहकर्मी” के रूप में याद किया। “सारी सराभाई बने चिराग़दानी टीम शोक में है। ओम शांति,” उन्होंने ट्वीट किया। शो के अभिनेता-निर्देशक देवेन भोजानी ने भी ट्विटर पर लिखा, “दुखद! एक अत्यंत उत्कृष्ट अभिनेत्री और प्रिय मित्र वैभवी उपाध्याय, जिन्हें ‘सराभाई बने चिराग़दानी’ की ‘जैस्मिन’ के रूप में जाना जाता है, ने हमें छोड़कर चली गई हैं।”

रुपाली गांगुली, जिन्होंने मोनिशा का किरदार निभाया, ने वैभवी की मौत के बारे में जानकर हैरानी का असर हुआ है। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम स्टोरीज़ पर एक फिल्म से वैभवी की तस्वीर के साथ लिखा, “क्या? कैसे? कब? अभी भी यकीन नहीं हो रहा। वैभवी, तू हमेशा हमारे दिलों में रहेगी।”

वैभवी उपाध्याया की मौत ने टेलीविजन और फ़िल्म उद्योग में शोक का माहौल पैदा किया है। उनके अंतिम संस्कार में उनके परिवार के सदस्यों, मित्रों, सह-कलाकारों, और प्रशंसकों की उपस्थिति की उम्मीद है। उनके अद्वितीय अभिनय और यादगार कार्यों को याद करके, उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी और उनकी यादें सदैव जीवित रहेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top